22 C
Mumbai
Wednesday, November 30, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

गिरफ्तार भाजपा विधायक टी. राजा पैगंबर विवाद में बोले- धर्म के लिए तैयार हैं मरने को भी; करूंगा एक और वीडियो शेयर

कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी पर बरसते हुए पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी कर घिरे हैदराबाद के भाजपा विधायक टी. राजा सिंह का कहना है कि वह धर्म के लिए लड़ रहे हैं और मरने के लिए भी तैयार हैं। पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए जाने के दौरान टी. राजा सिंह ने कहा कि मैं यह धर्म के लिए कर रहा हूं। इसके लिए मैं मरने के लिए भी तैयार हूं। टी. राजा सिंह ने कहा, ‘उन्होंने यूट्यूब से मेरी वीडियो हटा दी। मुझे नहीं पता कि पुलिस क्या करने जा रही है। जब मैं रिहा हो जाऊंगा तो निश्चित तौर पर वीडियो का दूसरा हिस्सा अपलोड करूंगा। मैं यह धर्म के लिए कर रहा हूं। मैं धर्म के लिए मरने को भी तैयार हूं।’

राजा सिंह ने यह जानना चाहा कि उनके खिलाफ विभिन्न पुलिस थानों में इतनी शिकायतें क्यों दर्ज की गईं। उन्होंने कहा, ‘शिकायतें क्यों दर्ज की गईं? हमारे राम, राम नहीं हैं? हमारी सीता, सीता नहीं है? मैंने डीजीपी से हाथ जोड़कर अनुरोध किया था कि वह राम और सीता के खिलाफ अभद्र भाषा में कॉमेडी करने वाले शख्स (मुनव्वर फारुकी) को कार्यक्रम की अनुमति न दें।’ दरअसल मुनव्वर फारूकी का 20 अगस्त को हैदराबाद में एक कार्यक्रम हुआ था, जिसका टी. राजा सिंह ने विरोध किया था। इसके चलते उन्हें हिरासत में भी लिया गया था। उनके विरोध के बाद भी कार्यक्रम हुआ था और उसके जवाब में ही वह एक वीडियो में बोल रहे थे। 

हजारों मुसलमानों की भीड़ ने थानों को घेरकर किया प्रदर्शन

इसी दौरान राजा सिंह ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी कर दी, जिसे लेकर बवाल मचा हुआ है। सोमवार रात को ही दबीरपुर समेत हैदराबाद के कई थानों का घेराव कर हजारों मुसलमानों ने विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद पुलिस ने राजा सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि सिंह के खिलाफ कई पुलिस थानों में शिकायत दर्ज कराई गई है। दबीरपुर पुलिस थाने के निरीक्षक जी कोटेश्वर राव ने बताया कि उन्हें सिंह के खिलाफ एक शिकायत मिली है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि भाजपा विधायक ने एक धर्म विशेष के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां की हैं।

विधायक बोले- लौटकर रिलीज करूंगा वीडियो का दूसरा हिस्सा

राव के मुताबिक, सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों में शत्रुता को बढ़ावा देने, जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य करने, धर्म व धार्मिक मान्यताओं का अपमान करके किसी भी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने की मंशा तथा आपराधिक धमकी के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है। गोशामहल से विधायक सिंह ने गिरफ्तारी के दौरान पत्रकारों से कहा कि उन्होंने जिस सोशल मीडिया साइट पर अपना वीडियो साझा किया था, उसने उसे हटा दिया है और वह रिहा होने के बाद इस वीडियो क्लिप का ‘दूसरा हिस्सा’ अपलोड करेंगे।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here