26 C
Mumbai
Wednesday, November 30, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

गाजियाबाद :जोरदार धमाका LED TV में, 16 वर्षीय लड़के की मौत, 3 लोग घायल; मकान भी क्षतिग्रस्त

गाजियाबाद के टीला मोड़ थाना क्षेत्र के हर्ष विहार-2 इलाके के एक घर में मंगलवार दोपहर को एलईडी टीवी में धमाका हो गया। इस धमाके में 16 वर्षीय एक किशोर की मौत हो गई, जबकि परिवार के तीन अन्य लोग घायल हो गए। घायलों को दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि धमाका इतना जोरदार था कि टीवी के सामने की दीवार भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है।

ऑटो मैकेनिक निरंजन परिवार समेत हर्ष विहार कॉलोनी में रहते हैं। मंगलवार दोपहर निरंजन की पत्नी ओमवती, बहू मोनिका, बेटा ओमेंद्र तथा ओमेंद्र का दोस्त करण मकान के सेकेंड फ्लोर पर बने कमरे में एलईडी पर कार्यक्रम देख रहे थे। दोपहर करीब दो बजे अचानक एलईडी में जोरदार धमाका हो गया। इस हादसे में चारों बुरी तरह घायल हो गए। धमाके की आवाज सुनकर आसपास के लोग बाहर आए और निरजंन के घर की तरफ भागे।

धमाके के बाद खिड़कियों से धुआं निकल रहा था। कुछ लोगों ने हिम्मत दिखाते हुए अंदर प्रवेश किया। पूरा कमरा धुएं से भरा हुआ था और जलने की बदबू आ रही थी। स्थानीय लोग तुरंत घायलों को अस्पताल लेकर भागे। इस बीच पुलिस को सूचना दी गई। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने 16 वर्षीय ओमेंद्र को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस का कहना है कि तीन अन्य घायलों का इलाज किया जा रहा है। टीला मोड़ थाना प्रभारी भुवनेश कुमार का कहना है कि ओमेंद्र के चेहरे और अन्य जगहों पर एलईडी के टूटे हुए टुकड़े घुस गए थे। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

घायलों ने पहले बताया मोबाइल में हुआ धमाका

पुलिस का कहना है कि घर में धमाका होने पर जब पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो घायलों ने उन्हें बताया कि मोबाइल में धमाका हुआ है, लेकिन एलईडी का हाल देख लोग समझ गए कि यह मोबाइल में धमाका नहीं है। धमाके के चलते जिस दीवार पर एलईडी लगा हुआ था उसके ठीक सामने वाली दीवार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है।

हाई वोल्टेज भी हो सकता है कारण

एलईडी निर्माता संदीप गर्ग का कहना है कि एलईडी में धमाके का उनकी जानकारी में यह पहला मामला है। एलईडी तेज वोल्टेज से पिघल सकता है, लेकिन विस्फोट नहीं हो सकता। हालांकि, टीला मोड़ इलाके में हुई घटना में हाई वोल्टेज एक वजह हो सकती है।

एसपी (ट्रांस हिंडन) ने ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि एलईडी में हुए धमाके से किशोर की मौत हो गई है। हादसे की वजह अभी स्पष्ट नहीं है, लेकिन तेज वोल्टेज एक कारण हो सकता है। फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर भेजा गया है। परिजनों को शुरुआत में मोबाइल फोन में धमाका होना लग रहा था, लेकिन उनका मोबाइल दुरुस्त मिला, इसलिए धमाका एलईडी में ही हुआ है। 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here