27 C
Mumbai
Monday, November 28, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

अचानक चीन के डिजनीलैंड में लगा लॉकडाउन, अंदर ही फंसे हजारों विजिटर; देखें वीडियो

चीन में कोरोना से हाल बेहाल है। जिनपिंग सरकार के सख्त कोविड नियमों से लोगों का जीना दूभर हो चुका है। चीन की जीरो-कोविड पॉलिसी के कारण शंघाई में डिजनीलैंड को अचानक बंद कर दिया गया। द हॉलीवुड रिपोर्टर के अनुसार, वॉल्ट डिजनी कंपनी के प्रमुख डिजनी रिसॉर्ट ने सोमवार को अपने दरवाजे बंद कर दिए। इस अफरा तफरी में हजारों की संख्या में विजिटर्स अंदर ही फंस गए। 

शंघाई डिजनीलैंड को अचानक बंद करने की घोषणा के समय सभी मेहमान पार्क के अंदर ही थे। उन्हें तब तक बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है जब तक कि उनकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव नहीं आ जाती। कई तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हैं, जिनमें देखा जा सकता है कि लोग पार्क के अंदर कैद होने से बचने के लिए दीवारों की ओर भागते नजर आ रहे हैं। 

वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि लोग लॉकडाउन की कैद से बचने की उम्मीद में थीम पार्क के बंद हो चुके फाटकों की ओर भागते नजर आ रहे हैं। शंघाई डिजनीलैंड के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट्स पर सोमवार को पोस्ट किए गए एक नोटिस में कहा गया है कि विशाल थीम पार्क और आसपास की फैसिलिटी अगली सूचना तक बंद रहेंगी। शहर के क्रूर लॉकडाउन के दौरान 101 दिनों के लिए बंद रहने के बाद जून में थीम पार्क फिर से खोला गया था।  डिजनी ने एक बयान में कहा, “हम असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं और इस अवधि के दौरान प्रभावित सभी मेहमानों के पैसे वापस करेंगा या उन्हें एक्सचेंज की सुविधा देंगे। जैसे ही हमारे पास पार्क को खोलने की फिर से निश्चित तारीख मिलेगी, हम मेहमानों को सूचित करेंगे।”

जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, शंघाई में पिछले 28 दिनों में कोविड ​​के 97 मामले दर्ज किए गए हैं। शहर में अब तक कुल 595 मौतों के साथ कुल 64,282 मामले दर्ज किए गए हैं। न्यूयॉर्क पोस्ट ने बताया कि चीन में पिछले एक महीने में 178,178 मामले और 212 मौतें हुई हैं। पिछले महीने देश की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी और उसके नेता शी जिनपिंग ने संकेत दिया था कि जीरो-कोविड नीति में कोई ढील नहीं दी जाएगी। उन्होंने इसे “वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लोगों का युद्ध” कहा था।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here