24 C
Mumbai
Friday, January 27, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

इमरान की पार्टी पाकिस्तान की सभी विधानसभाओं से इस्तीफा देगी, पूर्व प्रधानमंत्री ने किया बड़ा एलान

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के ऊपर हुए जानलेवा हमले के बाद पाकिस्तान में तरह तरह की राजनीतिक बयानबाजी और लोगों में गुस्सा चरम पर है। वहीं, अपनी पूर्व घोषणा के मुताबिक शनिवार को इमरान खान रावलपिंडी में अपनी पार्टी पीटीआई के लॉन्ग मार्च को संबोधित करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने अपने ऊपर दोबारा हमले की आशंका जताते हुए कहा कि मैं मौत से नहीं डरता, वो तभी आती है जब अल्लाह चाहता है। मुझे भी अल्लाह ने ही बचाया है। 

शरीफ परिवार को लिया निशाने पर
इस दौरान इमरान खान ने शरीफ परिवार को भी निशाने पर लिया। पूर्व पीएम ने कहा कि 30 सालों तक इन चोरों पाकिस्तान पर शासन किया और इन चोरों की वजह से पाकिस्तान पर कर्ज बहुत ज्यादा बढ़ गया हैा। 

सभी विधानसभाओं से इस्तीफे का किया एलान
इस दौरान PTI के अध्यक्ष इमरान खान ने घोषणा की कि उनकी पार्टी ने सभी विधानसभाओं से इस्तीफा देने का फैसला किया है। पीटीआई सदस्य सभी असेंबली से इस्तीफा देंगे। हम सारी असेंबली से निकलेंगे। सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि बेहतर है कि हम इस भ्रष्ट सरकार से बाहर निकलें। 

निर्णायक मुहाने पर खड़ा है देश
अपनी ताकत दिखाने के लिए आयोजित इस मार्च में संबोधित करते हुए इमरान खान ने कहा कि डर पूरे देश को गुलाम बना देता है। जब मुझ पर हमला किया गया था तो कंटेनर पर 12 लोगों को गोली मारी गई, लेकिन एक की भी जान नहीं गई। अगर आप सही मायने में जीवन जीना चाहते हैं, तो खुद को मौत के डर से मुक्त करें। डर पूरे देश को गुलाम बना देता है। अगर आप जीवन जीना चाहते हैं, तो मृत्यु के भय को छोड़ दें। देश एक निर्णायक मुहाने पर खड़ा है, जिसके सामने दो रास्ते हैं – एक रास्ता आशीर्वाद और महानता का है जबकि दूसरा रास्ता अपमान और विनाश का है।गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत में इमरान खान पर हमला किया गया था। जिसके बाद वे पहली बार सार्वजनिक कार्यक्रम में पहुंचे थे। इस दौरान अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए इमरान खान ने कर्बला का उदाहऱण भी दिया।  

कल किया था एलान
गौरतलब है कि उन्होंने कल यानी शुक्रवार को एक बार फिर एलान किया था कि घायल होने के बावजूद वह देश की खातिर रावलपिंडी जाने के लिए अडिग हैं। उन्होंने लॉन्ग मार्च को संबोधित करने की अपनी प्रतिबद्धिता जाहिर की थी। पाकिस्तान के पूर्व पीएम ने एलान किया था कि अपनी जान पर खतरे के बावजूद वह शनिवार को उनकी पार्टी द्वारा पूर्व निर्धारित विशाल रैली को संबोधित करने रावलपिंडी जाने के लिए अडिग हैं। उन्होंने लोगों से भी बड़ी संख्या में इस रैली में पहुंचने की अपील भी की थी। उन्होंने कहा था कि यह देश के लिए ‘‘निर्णायक वक्त’’ है। हम एक ऐसा देश बनना चाहते हैं, जिसके सपने कायदे आजम और अल्लामा इकबाल ने देखे थे।

गौरतलब है कि इसी महीने की तीन तारीख को रैली के दौरान पूर्व पीएम इमरान खान पर जानलेवा हमला हुआ था। दो हमलावरों ने उनपर गोली चलाई थी। फिलहाल डॉक्टरों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here