22 C
Mumbai
Friday, January 27, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

‘गो-कार्ट’ चलाना भारतीय मूल की किशोरी के लिए खतरनाक साबित हुआ, ICU में भर्ती बाल फंसने के बाद

दक्षिण अफ्रीका में एक भारतीय मूल की किशोरी को गो -कार्ट( खिलौने वाला कार) चलाना खतरनाक साबित हुआ। बताया जा रहा है कि किशोरी एक मनोरंजन केंद्र में गो-कार्ट चला रही थी और इसी दौरान उसके बाल उस गो-कार्ट में फंस गए जिसके बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गई। इस दुर्घटना में उसकी रीढ़ की हड्डी के साथ-साथ महाधमनी भी फट गई। कमर के नीचे कोई हलचल नहीं दिख रही थी।  15 साल की क्रिस्टन गोवेंडर एक सप्ताह से आईसीयू में भर्ती है।   डॉक्टर ने बताया कि इस दुर्घटना में उसकी खोपड़ी भी फट गई है।

पिता ने बताया कैसे घटी घटना
पिता के अनुसार जब उनकी बेटी क्रिस्टिन ने बैरियर पर स्पिन किया तभी  गो-कार्ट का पिछला भाग ढीला हो गया। एक्सल को कवर करने वाला कवर उसे ढीला लग रहा था। । जब अधिकारियों में से एक उसके पास आया, तो  मेरी बेटी ने ढीले कवर के बारे में पूछा। । अधिकारी ने उसे बताया कि यह ठीक है और उसने प्लास्टिक के टुकड़े को हटा दिया और उसे एक तरफ फेंक दिया, और उसे बताया दौड़ जारी रखें। इसके बाद जैसे ही मेरी बेटी ने गो-कार्ट को चलाना शुरू किया उसके बाल हेलमेट के नीच ढीले हो गए और वह फिर वह खुद को संभाल नहीं पाई और बुरी तरह से घायल हो गई।

युवती के पिता ने प्रबंधन पर लगाए आरोप
युवती के पिता वरमन गोवेंद्र ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी बेटी ने केंद्र में हेलमेट पहनने के सख्त नियमों का पालन किया था और उसके लंबे बालों को पोनीटेल में बांध दिया था। गो-कार्ट पर उपकरण खराब होने के बाद प्रबंधन तत्काल सहायता प्रदान करने में विफल रहा। वहीं मॉल प्रबंधन ने संवेदनशील प्रकृति का हवाला देते हुए टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। साप्ताहिक पोस्ट की खबर के मुताबिक, वरमन ने कहा कि वह पुलिस में शिकायत करने का मन बना रहे हैं, क्योंकि वह नहीं चाहति हैं कि इस तरह की घटना किसी के साथ हो।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here