24 C
Mumbai
Friday, January 27, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

पॉलिटिकल इंजीनियरिंग से दूर रहे सैन्य प्रतिष्ठान आगामी चुनाव में, बाजवा पर भी साधा निशाना

पाकिस्तान में इस साल के अंत में आम चुनाव होने हैं। ऐसे में सत्तारूढ़ गठबंधन पीडीएम और विपक्षी पीटीआई पार्टी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। इस बीच, अपदस्थ प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना से इन आम चुनावों से दूर रहने के लिए कहा है। उन्होंने यह भी कहा कि उनकी पार्टी ही एकमात्र पार्टी है जो देश को मौजूदा आर्थिक संकट से बाहर निकाल सकती है। 

खान कराची के जमान पार्क स्थित आवास से वीडियो लिंक के जरिए महिला सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने एक बार बार फिर पूर्व सेना प्रमुख जनरल (सेवानिवृत्त) कमर जावेद बाजवा पर निशाना साधा। क्रिकेटर से नेता बने खान ने बाजवा को उन्हें प्रधानमंत्री के पद से हटाने के साथ-साथ देश के सामने मौजूद राजनीतिक और आर्थिक संकट के लिए जिम्मेदार ठहराया। 

70 वर्षीय नेता ने इस बात की आशंका व्यक्त की कि आम चुनावों में उनकी पार्टी को कमजोर करने के लिए ‘पॉलिटिकल इंजीनियरिंग’ की जाएगी। उन्होंने आग्रह किया कि सैन्य प्रतिष्ठान से ऐसी गलती करने से बचे। खान ने दावा किया, सैन्य प्रतिष्ठान ने अपनी पिछली गलतियों से कुछ भी नहीं सीखा है। आगामी चुनावों में मेरी पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए पॉलिटिकल इंजीनियरिंग की जा रही है। 

उन्होंने आरोप लगाया कि सैन्य प्रतिष्ठान कराची में मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) के विभिन्न गुटों को एकजुट करने और दक्षिण पंजाब से बलूचिस्तान आवामी पार्टी (बीएपी) के नेताओं को पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) में भेजने के प्रयासों में शामिल थे, क्योंकि उन्हें उनकी पार्टी की राजनीतिक ताकत का डर था। 
उन्होंने सैन्य प्रतिष्ठान पर यह भी आरोप लगाया कि उसने पंजाब प्रांत में पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) को सत्ता में लाने का भी प्रयास किया। 

नए सेना प्रमुख जनरल असीम मुनीर और उनकी नीतियों को लेकर सतर्क रहने वाले खान ने कहा, हमारे सैन्य प्रतिष्ठान ने पहले ही देश को इतना नुकसान पहुंचाया है.. लेकिन अब भी वह अतीत से कुछ भी सीखने को तैयार नही है। उन्होंने उम्मीद जताई थी कि जनरल मुनीर के अधीन सेना तटस्थ रहेगी। 

जनरल (सेवानिवृत्त) बाजवा के खिलाफ अपना अभियान जारी रखते हुए खान ने कहा, पूर्व सेना प्रमुख देश के संकट के लिए जिम्मेदार थे। खान ने कहा, इस आदमी ने पाकिस्तान को संकट में डाल दिया। मैंने उनसे (पिछले अप्रैल मेरी सरकार को हटाने से पहले) कहा था कि पीटीआई सरकार को कमजोर करना देशहित में नहीं होगा। बाजवा ने राजनीतिक और आर्थिक लाभ के लिए पाकिस्तान को बर्बाद कर दिया। उन्होंने कहा, केवल स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव ही देश को संकट से बाहर निकाल सकते हैं। 

इमरान खान को अप्रैल में अविश्वास प्रस्ताव के जरिए सत्ता से बेदखल किया गया था। इसके बाद से उनमें और बाजवा के बीच टकराव चल रहा है। 

नए सैन्य नेतृत्व ने जासूसी के दोषी सेवानिवृत्त जनरल को माफी दी पाकिस्तान के नए सैन्य नेतृत्व ने विदेशी जासूसों को गोपनीय जानकारी देने के दोषी एक सेवानिवृत्त जनरल को माफी देते हुए जेल से रिहा कर दिया। एक मीडिया रिपोर्ट में सोमवार को यह जानकारी दी गई है। लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) जावेद इकबाल के वकील के हवाले से कहा गया कि उनकी योजना उन्हें दोषी ठहराने के सैन्य न्यायाधिकरण के फैसले को दी गई चुनौती जारी रखने की है, जब तक कि उन्हें सम्मानजनक तरीके से बरी नहीं कर दिया जाता। देश के नए सैन्य नेतृत्व ने उनके मामले की समीक्षा की और इकबाल को 29 दिसंबर को रावलपिंडी की अदियाला जेल से रिहा कर दिया गया।  

नए सैन्य नेतृत्व ने जासूसी के दोषी सेवानिवृत्त जनरल को माफी दी
पाकिस्तान के नए सैन्य नेतृत्व ने विदेशी जासूसों को गोपनीय जानकारी देने के दोषी एक सेवानिवृत्त जनरल को माफी देते हुए जेल से रिहा कर दिया। एक मीडिया रिपोर्ट में सोमवार को यह जानकारी दी गई है। लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) जावेद इकबाल के वकील के हवाले से कहा गया कि उनकी योजना उन्हें दोषी ठहराने के सैन्य न्यायाधिकरण के फैसले को दी गई चुनौती जारी रखने की है, जब तक कि उन्हें सम्मानजनक तरीके से बरी नहीं कर दिया जाता। देश के नए सैन्य नेतृत्व ने उनके मामले की समीक्षा की और इकबाल को 29 दिसंबर को रावलपिंडी की अदियाला जेल से रिहा कर दिया गया।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here