28 C
Mumbai
Tuesday, September 26, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

वी बिज़नेस ने लॉन्च किया “रैडी फॉर नेक्स्ट 2.0” विश्व एमएसएमई दिवस पर

विश्व एमएसएमई दिवस के मौके पर आज भारत के प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाता वोडाफोन आइडिया की एंटरप्राइज़ शाखा वी बिज़नेस ने अर्थव्यवस्था के समावेशी विकास के लिए एक बार फिर से एमएसएमई के डिजिटलीकरण की दिशा में अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की है।

वी बिज़नेस ने भारत के एमएसएमई सेक्टर का सबसे बड़ा मूल्यांकन किया, जिसके तहत 16 उद्योगों से तकरीबन 1 लाख उत्तरदाताओं को कवर किया गया- वी बिज़नेस ने एमएसएमई की डिजिटल तैयारियों पर अपने विचार प्रस्तुत किए। एमएसएमई की डिजिटल परिपक्वता एवं डिजिटल अडॉप्शन के उनके स्तर को समझना इस अध्ययन का मुख्य उद्देश्य है। इन 16 उद्योगों में मीडिया एवं एंटरटेनमेन्ट, मैनुफैक्चरिंग, आईटी एवं आईटीईएस, शिक्षा, लॉजिस्टिक्स, पेशेवर सेवाएं, बैंकिंग, निर्माण, खनन आदि शामिल हैं।

360 डिग्री रैडी फॉर नेक्स्ट 2.0 प्रोग्राम के लॉन्च के साथ इन पहलुओं को कवर किया जाएगा- 1) ‘अनलॉकिंग एमएसमई ग्रोथ इनसाईट्स- 2023 के रूझान’ 2023; 2) एमएसएमई को टेक्नोलॉजी अपनाने में मदद करने के लिए डिजिटल स्व मूल्यांकन के टूल्स को अपग्रेड करना; और 3) उन्हें विकसित होने में मदद करने के लिए एक्सक्लुज़िव एमएसएमई ऑफर्स- इन सभी प्रयासों के साथ वी बिज़नेस ने इस सेगमेन्ट में विकास पर अपने फोकस को और अधिक सशक्त बना लिया है।

प्रोग्राम पर अपने विचार व्यक्त करते हुए अरविंद नेवातिया, चीफ़ एंटरप्राइज़ बिज़नेस ऑफिसर, वोडाफोन आइडिया ने कहा, ‘‘लघु एवं मध्यम उद्योग भारत के जीडीपी (सकल घरेलु उत्पाद) में लगभग 30 फीसदी योगदान देते हैं। इस सेक्टर में तेज़ी से डिजिटलीकरण हुआ है, लेकिन फिर भी महामारी के बाद डिजिटल मैच्योरिटी इंडैक्स मात्र 55 से 60 फीसदी बना हुआ है। हमारा मानना है कि ही टेक्नोलॉजी टूल्स के द्वारा एमएसएमई अपनी विकास की क्षमता का सही लाभ उठा सकते हैं और देश की अर्थव्यवस्था में और भी अधिक योगदान दे सकते हैं। रैडी फॉर नेक्स्ट प्रोग्राम के माध्मय से हम एमएसएमई को ऐसे दीर्घकालिक समाधान उपलब्ध कराना चाहते हैं, ताकि वे अपनी निर्णय निर्धारण प्रक्रिया को सरल बना सकें, साथ ही अपने बिज़नेस के लिए सही फोकस एव समाधानों के द्वारा आने वाले कल के लिए तैयार हो सकें। हमारे समाधान इस तरह से तैयार किए गए हैं कि वे आज के डिजिटल दौर में एमएसएमई की उत्पादकता, पहुंच एवं सुरक्षा को बढ़ाने में कारगर हैं।’’

वी बिज़नेस ने इस अध्ययन के परिणामों के आधार पर एमएसएमई के लिए प्रासंगिक प्रोपोज़िशन तैयार किए हैं, ताकि एमएसएमई की बदलती कारोबार संबंधी ज़रूरतों को पूरा किया जा सके। इसके अलावा वी बिज़नेस ने इस साल अपने डिजिटल असेसमेन्ट टूल को भी बेहतर बनाया है।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here