29 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

आया बड़ा अपडेट बाल्टीमोर पुल हादसे को लेकर, मालवाहक जहाज पर सवार भारतीय चालक दल के सभी सदस्यों की सेहत ठीक

अमेरिका के बाल्टीमोर में पिछले हफ्ते पुल से टकराने वाले मालवाहक जहाज पर सवार भारतीय चालक दल के सभी सदस्य स्वस्थ हैं। एक गैर-लाभकारी संगठन ने यह जानकारी दी है। यह संगठन चालक दल के सदस्यों के संपर्क में है। 

मैरीलैंड राज्य के बाल्टीमोर में पटाप्स्को नदी पर करीब ढाई किलोमीटर लंबा चार लेन का पुल था। 26 मार्च को 984 फीट लंबा मालवाहक जहाज डाली इससे टकरा गया। जिसके बाद यह ढह गया था। इस जहाज पर 21 सदस्य सवार हैं, जिनमें 20 भारतीय हैं। हादसे के एक सप्ताह बाद भी ये सभी यहां फंसे हुए हैं। 

बाल्टीमोर इंटरनेशनल सीफर्स सेंटर के कार्यकारी निदेशक जोशुआ मेसिक ने कहा, मैं अभी सिर्फ इतना जानता हूं कि वे सभी स्वस्थ हैं। हम भावनात्मक रूप से और अन्य उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। मेसिक ने बताया कि वह व्हाट्सएप के जरिए चालक दल के संपर्क में हैं। 

मेसिक ने कहा कि वह फिर से डाली के चालक दल के पास यह देखने के लिए पहुंच गए हैं कि आज उन्हें कुछ दे सकते हैं। बाल्टीमोर इंटरनेशनल सीफर्स सेंटर एक गैर-लाभकारी संगठन है, जो समुद्री यात्रा करने वालों की सेवा करता है। इसकी वेबसाइट पर प्रकाशित जानकारी के मुताबिक, इस संगठन का मकसद समुद्री परिवहन के लिए चालक दल के सदस्यों की यात्रा को सुविधाजनक बनाना है। 

वहीं, भारत के विदेश मंत्रालय (एमईए) ने कहा कि मालवाहक जहाज डाली पर 20 भारतीय सवार हैं। वॉशिंगटन में भारतीय दूतावास उनसे और स्थानीय प्रशासन ससे संपर्क बनाए हुए है। 

एमईए के प्रवक्ता रधीर जायसवाल ने कहा, हमारी सूचना के अनुसार चालक दल के 21 सदस्य हैं, जिनमें 20 भारतीय हैं। वे सभी अच्छे हैं और स्वस्थ हैं। उनमें से एक को थोड़ी चोट लगी और उसे कुछ टांके लगाने की जरूरत थी। टांके लगाए गए हैं। जायसवाल ने पिछले हफ्ते अपनी साप्ताहिक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान एक  सवाल के जवाब में बताया था कि वह जहाज पर वापस चले गए हैं। 

उन्होंने यह भी कहा था कि अमेरिका में भारतीय दूतावास जहाज पर सवार भारतीयों और स्थानीय प्रशासन के निकट संपर्क में है। 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »