34 C
Mumbai
Tuesday, April 16, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

Alexei Navalny: मां का संघर्ष बेटे के शव के लिए, लगा रहीं गुहार; जो बाइडन एलेक्सी नवलनी की पत्नी-बेटी से मिले

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के कट्टर विरोधी और विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की हाल ही में जेल में रहस्यमय तरीके से मौत हो गई थी। वह लंबे समय से जेल में बंद थे। कहा जा रहा है कि यमालो-नेनेट्स की जेल में उनकी मौत हुई है। गुरुवार को राष्ट्रपति जो बाइडन ने कैलिफोर्निया में एलेक्सी नवलनी की पत्नी और बेटी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने यह भी पुष्टि की कि अमेरिका रूस के खिलाफ बड़े नए प्रतिबंधों की घोषणा करेगा। 

बता दें, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सबसे मुखर आलोचक 47 वर्षीय नवलनी की टीम का कहना है कि उनकी हत्या की गई है। वहीं, नवलनी की मां अपने बेटे के शव को वापस लाने के लिए लगातार लड़ाई कर रही है। उनकी इस लड़ाई का समर्थन व्हाइट हाउस ने भी किया। 

नवलनी की पत्नी और बेटी से मुलाकात
जो बाइडन ने सैन फ्रांसिस्को के एक होटल में मां-बेटी से मुलाकात की। इसकी तस्वीरें व्हाइट हाउस ने सोशल मीडिया पर साझा की है। एक तस्वीर में अमेरिकी राष्ट्रपति नवलनी की पत्नी यूलिया नवलनया को गले लगाते दिख रहे हैं। वहीं दूसरी तस्वीर में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय की छात्रा और नवलनी की बेटी दशा से बात करते हुए दिख रहे। इस दौरान बाइडन काफी भावुक दिखे। 

बाइडन खो चुके हैं अपने परिवार को
आपकों बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने भी अपने कई करीबियों को खोया है। उनकी पहली पत्नी और उनकी बेटी 1972 में एक कार दुर्घटना में मारे गए थे, जबकि उनके बेटे ब्यू की 2015 में कैंसर से मृत्यु हो गई थी। बाइडन को अक्सर अमेरिका के कंसोलर-इन-चीफ के रूप में जाना जाता है। ऐसे में वह नवलनी की पत्नी और बेटी का दुख बहुत अच्छे से समझ पाए होंगे। 

यूलिया नवलनया नहीं मान रहीं हार
मुलाकात के बाद बाइडन ने कहा कि दोनों महिलाएं नवलनी के अविश्वसनीय साहस को छलका रही थीं। यूलिया नवलनया ने पुतिन के प्रति अपने दिवंगत पति के विरोध को जारी रखने की कसम खाई है। वह हार नहीं मान रही हैं।

नवलनी की मां लड़ रही शव के लिए लड़ाई
रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मां ल्यूडमिला नवलनया ने अपने बेटे के शव की मांग की, लेकिन अधिकारियों ने इससे इनकार कर दिया। इसके बाद उन्होंने एक वीडियो जारी कर पुतिन से अपील की।ल्यूडमिला ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने अपने बेटे के शव को देखा है और लोगों की नजरों से दूर गुप्त तरीके से अंतिम संस्कार के लिए सहमति के लिए अधिकारियों द्वारा बनाए जा रहे दबाव का वह पुरजोर विरोध कर रही हैं। सालेकहार्ड से एक वीडियो के माध्यम से अपना बयान जारी करते हुए ल्यूडमिला नवलनाया ने कहा कि जांचकर्ताओं ने शहर के मुर्दाघर में उन्हें उनके बेटे के शव को देखने की अनुमति दी।

धमका रहे रूसी अधिकारी
नवलनी की टीम द्वारा सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में ल्यूडमिला ने कहा कि अधिकारी चाहते थे कि उनके बेटे को अलविदा कहने का मौका दिए बिना दफना दिया जाए। उन्होंने कहा,  ‘वह मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं। यह गलत है। वह उसे दफनाने की बात कर रहे हैं। वे लोग धमका रहे हैं कि अगर मैं एक गुप्त अंतिम संस्कार के लिए सहमत नहीं होउंगी तो वे मेरे बेटे के शरीर के साथ कुछ भी करेंगे। मैं अपने बेटे का शव मांगती हूं। मुझे मेरे बेटे का शव दिया जाए।’

पुतिन साधे हुए है चुप्पी
नवलनी की मां ने यह भी कहा कि जांचकर्ताओं ने उन्हें बताया कि वे मौत का कारण जानते हैं, लेकिन यह नहीं बताया कि मौत कैसे हुई थी। क्रेमलिन ने यह बताने से इनकार कर दिया है कि शव कब सौंपा जाएगा। वहीं, अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा, ‘रूसी एक मां को उनके बेटे का शव वापस लौटा दें। हालांकि. पुतिन अपने मुख्य राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी की मौत पर चुप बने हुए हैं। 

जेल में टहलने के बाद नवलनी की मौत
दरअसल, यमालो-नेनेट्स ऑटोनॉमस डिस्ट्रिक्ट प्रशासन ने कहा था कि जेल में टहलने के बाद नवलनी का स्वास्थ्य ठीक नहीं था। उन्होंने तबियत ठीक नहीं होने की जानकारी दी थी, जिसके बाद वे बेहोश हो गए थे। इसके बाद मेडिकल स्टाफ को बुलाया गया, लेकिन वह होश में नहीं आए। हालांकि, अभी उनकी मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »