34 C
Mumbai
Monday, April 22, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

आगरा में लगातार बढती जा रही है कोरोना पीडितों की संख्या।

रिपोर्ट- विपिन निगम

न्यूज डेस्क(यूपी) आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में कोरोना वायरस से हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं। हर दूसरे-तीसरे दिन संक्रमितों की बाढ़ आ रही है। हालात यह कि हर 16वां संदिग्ध कोरोना का मरीज निकल रहा है। अभी तक लिए गए नमूने और उनकी जांच के परिणामों के बाद यह स्थिति बनी है। अभी तक हुई जांच में 6.1 प्रतिशत कोरोना के संक्रमित पाए गए हैं।

रविवार देर रात एक साथ आए 35 संक्रमितों की रिपोर्ट के बाद हालात भयावह हो गए हैं। आगरा के जिला अस्पताल और एसएन मेडिकल कॉलेज से केजीएमयू लखनऊ को शनिवार देर तक तक कुल 2264 नमूने भेजे गए थे। इनमें से 138 संक्रमित पाए गए हैं। कुल नमूनों की जांच के बाद संक्रमितों का प्रतिशत 6.1 आया है। यह अच्छी-खासी तादाद है।

जिले की कुल आबादी के हिसाब से इसका आंकलन करेंगे तो स्थिति बहुत भयानक हो सकती है। अब तक जितने भी नमूने लिए गए, उनमें से हर 16वां व्यक्ति कोरोना का मरीज निकला है। ऐसा तब है, जबकि बीच में लगभग 12 दिन तक सभी रिपोर्ट नैगेटिव आई थीं। तब्लीगी जमात और अस्पतालों में संक्रमित हुए लोगों ने यह आंकड़ा एकदम से बढ़ा दिया है। इससे जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के होश उड़े हुए हैं। कांटेक्ट सर्विलांस, थर्मल स्क्रीनिंग और सर्वे के जरिए नए मरीज खोजे जा रहे हैं। 

केजीएमयू से आई रिपोर्ट के मुताबिक हर उम्र का व्यक्ति संक्रमित हुआ है। इसमें सबसे छोटी उम्र 11 साल के बच्चे की है। इसका आठ अप्रैल की रिपोर्ट में उल्लेख है। जबकि 12 अप्रैल की रिपोर्ट में 80 साल का बुजुर्ग भी संक्रमित पाया गया है। 15 से 30 साल उम्र वाले भी बड़ी तादाद में कोरोना से संक्रमित हुए हैं।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »