26 C
Mumbai
Saturday, March 2, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

मानवीय संवेदनाएं हुई तार-तार, नवजात भ्रूण का गला घोंटकर शौचालय में फैंका। —- रिपोर्ट –  गोपाल प्रसाद सैनी

श्रीधाम गोवर्धन के नीमगांव रेलवे स्टेशन पर शौचालय की शीट में पड़ा मिला नवजात का शव, तीन घंटे तक जीआरपी ने नहीं ली सुध, स्थानीय पुलिस ने जीआरपी का मामला बताकर पल्ला झाड़ा।

गोवर्धन(मथुरा)। एक बार फिर से मानवीय संवेदनाएं तार-तार हुई। किसी महिला ने प्रसव पीड़ा के बाद बच्चे को जन्म दिया और उस बच्चे का कपड़े से गला घोंटकर शौचालय में फैंक गई। मृत भ्रूण खून से लथपथ शौचालय के पाॅट के अंदर कपड़े से ढका मिला। यह घटना अलवर-मथुरा मार्ग के गोवर्धन रेलवे स्टेशन की है। जिसने भी इस घटना को देखा हैरान रह गया। सफाई कर्मचारी को भ्रूण मिलने के बाद स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई लेकिन पुलिस द्वारा रेलवे स्टेशन प्रांगण का मामला होने के बाद जीआरपी का मामला बता दिया गया। गोवर्धन रेलवे स्टेशन पर जीआरपी पुलिस केे न होने पर नवजात का शव कई घंटों तक पड़ा रहा। प्रत्यक्षदर्शी नीमगांव-गोवर्धन रेलवे स्टेशन सफाई कर्मचारी आकाश ने बताया कि वह शाम को सफाई करने के लिए गया तो शौचाालय की शीट पर कपड़ा ढका हुआ था। देखा तो नवजात हाल में पैदा हुआ बच्चा मृत पड़ा है। संभवतया बच्चे के गले को कपड़े से बांधकर दबाया गया है और इसके बाद शौचालय के पाॅट में अंदर डाला गया है। यह बीभत्स नजारा देखकर उसने रेलवे कर्मचारियों को सूचना दी। सूचना के बाद लोगों ने पुलिस को भी बताया लेकिन जीआरपी का मामला होने के कारण शव को नहीं उठाया गया। रेलवे स्टेशन कर्मचारियों की मानें तो गुरूवार की दोपहर करीब दो बजे दो महिलाएं काफी देर से स्टेशन पर ही घूम रही थीं इसके बाद एक अविवाहित व अन्य महिला शौचालय की ओर भी देखी गई। टिकट लेने के बाद अलवर जाने वाली ट्रेन में चली गई। वहीं इस मामले में गोवर्धन रेलवे स्टेशन पर तैनात स्टेशन मास्टर संतोष कुमार ने बताया कि घटना 2 से 3 बजे की बीच की है। जीआरपी व अन्य अधिकारियों को अवगत करा दिया है। कुछ समय के बाद ही कार्यवाही की जाएगी। इस मामले में सीओ गोवर्धन जगदीश कालीरमन ने बताया कि उनके संज्ञान में मामला नहीं है। फिर भी जानकारी मिलने पर दिखवाया जा रहा है।

 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »