27 C
Mumbai
Monday, July 15, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

Ruchira Kamboj: ‘अफगानिस्तान के लोगों के साथ भारत कई चुनौतियों से मुकाबला कर रहे’, UNSC में बोलीं कंबोज

संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि रुचिरा कंबोज ने अफगानिस्तान के लोगों के प्रति देश की अटूट प्रतिबद्धता को दोहराया। इसके साथ ही देश के लिए निरंतर अंतरराष्ट्रीय ध्यान और समर्थन की आवश्यकता पर बल दिया जो पहले से ही आतंकवाद और प्राकृतिक आपदाएं जैसी चुनौतियों का मुकाबला कर रहा है। 

कंबोज ने बुधवार को अफगानिस्तान की स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा, ‘अफगानिस्तान के एक पड़ोसी, उसके मित्र और अफगानिस्तान में शांति व स्थिरता सुनिश्चित करने में प्रत्यक्ष हित रखने वाले देश के रूप में मुझे परिषद के सामने अपनी बात रखने का मौका दें।’ 

मानवीय स्थितियों के बारे में चिंता व्यक्त की
उन्होंने इस साल अक्तूूबर में आए भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण बिगड़ती मानवीय स्थितियों के बारे में विशेष चिंता व्यक्त की। साथ ही अफगानिस्तान की स्थिति के बारे में चल रही चिंताओं पर प्रकाश डाला। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार इस साल की शुरुआत में अक्तूबर में पश्चिमी अफगानिस्तान में आए 6.3 तीव्रता के भूकंप में 320 से अधिक लोग मारे गए थे और सैकड़ों घायल हो गए थे।

ध्यान न खोएं
कंबोज ने कहा कि अफगानिस्तान की स्थिति अभी भी चिंता का विषय है। अक्तूबर के भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं से बिगड़ती मानवीय स्थिति ने लोगों के जीवन पर विनाशकारी प्रभाव डाला है। उन्होंने इस चुनौतीपूर्ण समय के दौरान अफगानिस्तान से ध्यान न हटाने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के महत्व पर जोर दिया।

सक्रिय रूप से जुड़ने…
भारत के स्थायी प्रतिनिधि ने यूएनएससी संकल्प 2679 द्वारा अनिवार्य विशेष समन्वयक फेरिडुन सिनिरलिओग्लू द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट को स्वीकार किया और रिपोर्ट में शामिल सिफारिशों पर ध्यान दिया। उन्होंने अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता के अंतिम लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अन्य भागीदारों के साथ सक्रिय रूप से जुड़ने की भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि भारत पहले से ही जमीनी स्तर पर कई संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के साथ साझेदारी कर रहा है और अफगानिस्तान के लोगों के कल्याण के लिए ऐसा करना जारी रखेगा। 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »